Monday, January 4, 2010

काश

काश ऐसा होता
मेरे पास वह होते
मेरी यादों को सहलाते
मेरे सपने साकार हो जाते

1 comment:

अनिल कान्त : said...

अच्छे शब्द है.